अमेरिका की बड़ी कार्रवाई, लगाया रूस पर प्रतिबंध

अमेरिका की बड़ी कार्रवाई, लगाया रूस पर प्रतिबंध — राष्ट्रपति चुनाव में हैकिंग के नाम पर कड़ी कार्रवाई करते हुए अमेरिका ने गुरुवार को रूसी खुफिया एजेंसियों और इनके शीर्ष अधिकारियों पर प्रतिबंध लगाते हुए 35 रूसी अधिकारियों को देश छोड़ने का आदेश दिया है।

Obama Putin

खबर अनुसार अमेरिकी विदेश विभाग ने वाशिंगटन स्थित रूसी दूतावास और सैन फ्रांसिस्को स्थित वाणिज्य दूतावास से 35 राजनयिकों को निकाल दिया है।

इन राजयनिकों को परिवार समेत 72 घंटे के भीतर अमेरिका छोड़ने के लिए कहा गया है। इन्हें अपने राजनयिक स्थिति के प्रतिकूल ढंग से काम करने की वजह से अस्वीकार्य घोषित कर दिया गया है।

मामले में ओबामा का कहना है कि अमेरिका के मैरीलैंड और न्यूयॉर्क में स्थित दो रूसी सरकारी परिसरों तक अब रूस के लोगों की पहुंच नहीं होगी। साइबर हमले के नाम पर ओबामा प्रशासन ने यह अब तक सबसे सख्त कदम उठाया है।

ओबामा ने हवाई में छुट्टियां मनाने के दौरान एक बयान में कहा कि सभी अमेरिकियों को रूस की कार्रवाइयों को लेकर सजग होना चाहिए। इस तरह की गतिविधियों के परिणाम होते हैं।

इसके साथ ओबामा ने रूस की दो खुफिया सेवाओं जीआरयू और एफसबी के खिलाफ प्रतिबंध लगाया है। जीआरयू का सहयोग करने वाली कंपनियों को भी प्रतिबंधित किया गया है।

ओबामा प्रशासन के इस आरोप से रूसी अधिकारियों ने इनकार करते हुए कहा है कि रूस की सरकार अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव को प्रभावित करने का कोई प्रयास नहीं कर रही थी।

वहीं अमेरिकी खुफिया एजेंसियां ​​इस निष्कर्ष पर पहुंची हैं कि रूस का मकसद डोनाल्ड ट्रंप की जीत सुनिश्चित करना था। और ट्रंप ने एजेंसियों के इस आकलन को हास्यास्पद करार दिया है।

Follow us on facebook -