एक नए शीतयुद्ध की तरफ बढ़ रहे हैं अमेरिका रूस ?

एक नए शीतयुद्ध की तरफ बढ़ रहे हैं अमेरिका रूस ?मास्को : दुनिया के दो ताकतवर देश अमेरिका और रूस एक बार फिर आमने सामने हैं. दोनों देशों के मध्य अब एक उसी तरह की सरगर्मी देखी जा रही है जैसे 1960-70 के दशक में शीतयुद्ध के समय थी. अब अमेरिकी प्रतिबंधों के खिलाफ प्रतिशोध जताते हुए रूस ने परस्पर संबंधों के तनावपूर्ण होने की जानकारी दी है.

ताजा घटनाक्रम में रूस ने अमेरिकी प्रतिबंधों के खिलाफ ‘पर्याप्त प्रतिशोध’ का संकल्प जताते हुए आरोप लगाया कि वाशिंगटन उस पर अमेरिकी चुनाव में ‘निराधार’ संलिप्तता के आरोप लगाकर संबंधों को समाप्त करने की कोशिश कर रहा है.

एनडीटीवी की एक रिपोर्ट के अनुसार, क्रेमलिन के प्रवक्ता दामित्री पेस्कोव ने कहा है कि, अमेरिका निश्चित तौर पर रूस के साथ अपने संबंधों को समाप्त करना चाहता है जो पहले ही बहुत तनावपूर्ण हो चुके हैं.

उन्होंने कहा कि, रूस ‘ पारस्परिकता के सिद्धांत के आधार पर, पर्याप्त तरीके से इस पर प्रतिक्रिया देगा.

बता दें कि, वाशिंगटन ने रूस की दो शीर्ष खुफिया एजेंसियों पर प्रतिबंध लगाने, 35 एजेंटों का निष्कासन और अमेरिका में दो रूसी परिसरों को बंद करने सहित रूस के खिलाफ कुछ प्रतिबंधों की घोषणा की है.

प्रमुख रुसी समाचार एजेंसी रिया-नोवोस्ती के अनुसार, पेस्कोव ने कहा, हम स्पष्ट रूप से निराधार दावों और आरोपों को खारिज करते हैं.

वहीं अंतरराष्ट्रीय मामलों की स्टेट ड्यूमा कमेटी के अध्यक्ष लियोनिद स्लूत्स्की ने कहा कि, रूस पर अमेरिका के प्रतिबंध और पिछले 72 घंटों में 35 एजेंटों के निष्कासन से पता चलता है कि वह (अमेरिका) किस हद तक भ्रमित है.

रिया-नोवोस्ती के अनुसार, उन्होंने कहा कि वह एक बार फिर हमारे देश के खिलाफ बहुत आक्रामक कदम उठा रहे हैं.

Follow us on facebook -